अपराजिता से वशीकरण कैसें करें ? और अपराजिता के तंत्र प्रयोग के बारे मे जानने से पहले हम आपको अपराजिता के बारे मे थोड़ी जानकारी देदेते हैं।अपराजिता लता पौधा होता है और इसके फूल नीले रंग ‌‌‌व सफेद  के होते हैं। ‌‌‌इसमे से नीले पुष्प को क्रष्ण कांता और सफेद पुष्प को विष्णु कांता के नाम से जाना जाता है।यह देखने मे काफी आकर्षक लगता है। इसी वजह से इसका प्रयोग सजावट के अंदर किया जाता है। ‌‌‌बंगाल और पानी के ईलाकों के आस पास यह पाया जाता है।

यह योनी के आकार का होने की वजह से इसको योनिपुष्पी कहा जाता है। और अनेक प्रकार की पूजा मे इस अपराजिता का प्रयोग किया जाता है। ‌‌‌इसके फूल का प्रयोग तंत्र मंत्र और टोने टोटकों के अंदर बहुत अधिक किया जाता है।

अपराजिता के फूल से वशीकरण  और अपराजिता की जड़ से वशीकरण

‌‌‌रवि पुष्प योग के अंदर पहले दिन अपराजिता को आमंत्रित करके आएं और बोलकर आएं कि आप उसे किसी काम के लिए लेकर जा रहे हैं और आपका काम सफल होना चाहिए । उसके बाद पुष्प को ले आएं और छायां मे सूखाकर रखदें ।सूर्य ग्रहण या चन्द्र ग्रहण के समय इसकी मूल का संग्रह करके रखें |अब कृष्ण पक्ष की अष्टमी या चतुर्दशी को जब शनिवार पड़े तब किसी जाग्रत शिवालय ‌‌‌मे जाकर सामग्री को पीसकर एक गोली बनालेनी चाहिए ।

अपराजिता से वशीकरण

इस दौरान आप कोई भी बिना सिला हुआ वस्त्र धारण किये रहना चाहिए ।इस गोली को छाया के अंदर सुखा देनी चाहिए । और फिर किसी शुभ मूर्हत के अंदर इस गोली को कोई उपयुक्त वशीकरण मंत्र जप करके सिद्व कर लेना चाहिए । ‌‌‌एक बार जब आप इसको सिद्व कर लेते हैं तो इसका तिलक करके जिसके भी सामने जाएंगे वह आपके वश मे हो जाएगा । यह गोली काफी अदभुत है सामने वाले व्यक्ति के मन पर इसका गहरा असर होता है।

‌‌‌सुगम प्रसव के लिए अपराजिता का प्रयोग

दोस्तों यह भी एक टोटका होता है। कोई प्रसव पीड़ित महिला के कमर के अंदर कोई भी अपराजिता की बेल को लाकर लपेट देने से उसको प्रसव से आराम मिल जाता है। या प्रसव काफी आराम से हो जाता है।

‌‌‌बिच्छू का विष उतारने मे अपराजिता जड़ का प्रयोग

यदि किसी को सर्प काट लेता है तो कहीं से भी आप अपराजिता की जड़ को लें आएं और उसके बाद उसको पीसकर बिच्छू काटने वाले स्थान पर लगादेने से बिच्छू का जहर उतर जाता है।

‌‌‌भूत भगाने मे अपराजिता की जड़ का प्रयोग

नीली अपराजिता की जड़ को नीले कपड़े के अंदर बांध कर उस व्यक्ति के कंठ मे लटका देना चाहिए जिसको भूत प्रेत की समस्या हो रही हो । इसके अलावा यदि नीम के पत्तो की धूनी दी जाए तो रोगी ठीक हो जाता है।

‌‌‌गर्भधारण के अंदर प्रयोग

कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जिनको चाहते हुए भी बच्चे नहीं हो पाते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर उनको बहुत ही अपमान सहना पड़ता है। और आपतो जानते ही हैं कि जब कोई किसी महिला को बांझ कहता है तो महिला को बहुत बुरा लगता है। इस को दूर करने के लिए भी एक टोटका किया जाता है।

‌‌‌इसके लिए अपराजिता की जड़ को काली बकरी के दूध मे डाल कर पीना चाहिए और भगवान क्रष्ण की बाल रूप मे पूजा करें । यह मासिक धर्म समाप्त होने के बाद करना होता है। और रात के अंदर पति के साथ सहवास करने से काम सफल होते हैं।

‌‌‌घर से नकारात्मक उर्जा को दूर करने के प्रयोग

यदि आपको लगता है कि घर के अंदर नकारात्मक उर्जा का असर हो रहा है तो उसको दूर करने के लिए आप अपराजिता का प्रयेाग कर सकते हैं। यह बहुत ही आसान है। इसके लिए आप शनिवार के दिन सफेद फूल वाले अपराजिता की जड़ लाएं और उसी दिन एक नीले कपड़े के अंदर बांध ‌‌‌घर के मुख्य दरवाजे के उपर लगादें ।उसके बाद आप देखेंगे कि आपके घर के अंदर नकारात्मक उर्जा अपने आप ही कम हो जाएगी ।

‌‌‌पशुओं की बीमारी रोकती है अपराजिता

‌‌‌पशुओं की बीमारी रोकती है अपराजिता

दोस्तों अपराजिता बहुत ही उपयोगी है। यदि आपके घर के अंदर पशु हैं और वो अधिकतर बीमार रहते हैं तो उनके लिए एक अपराजिता का प्रयोग करके देख सकते हैं । क्या पता वे ठीक ही हो जाएं तो आपको क्या करना है कि ‌‌‌सफेद अपराजिता की जड़ ले आएं और उसको बकरी के मूत्र से पीसकर एक गोली बनाएं और जानवरों के गले मे डालदें । उसके बाद आपके पशु हमेशा सही रहेंगे ।

‌‌‌धन की समस्या को हल करती है अपराजिता

यदि आपके घर के अंदर बहुत अधिक धन की समस्या है और आप गरीबी के अंदर जी रहे हैं तो आप अपराजिता का एक टोटका कर सकते हैं। ‌‌‌सबसे पहले एक दिन एक अपराजिता की जड़ को लेकर आएं और उसे किसी चांदी की डिबिया के अंदर बंद करके पूजा स्थान पर कुछ दिन रखने के बाद फिर इसको धन वाले स्थान के उपर रखदें ।उसके बाद आप देखेंगे कि धन मे बचत होनी शूरू हो जाएगी ।

‌‌‌चोरी से रक्षा हेतु अपराजिता का प्रयोग

यदि आपको अपने घर के अंदर चोरी होने का डर सता रहा है तो अपराजिता के जड़ तंत्र का प्रयोग कर सकते हैं।अपराजिता की जड़ को लाने के बाद इसको सूखा दें और फिर बकरी के दूध के अंदर पीसकर गोली बनादें । ‌‌‌और उसके बाद अपने घर की चारों दिसाओं के अंदर रखदें । आपके घर मे चोर घुसने के चांस कम हो जाएंगे ।

‌‌‌नौकरी मे सफलता के लिए अपराजिता का प्रयोग

इस समय बहुत से लोग नौकरी के लिए प्रयास कर रहे हैं । लेकिन इसमे वे सफल नहीं हो रहे हैं। यदि आपके साथ भी लंबे समय से ऐसा हो रहा है तो‌‌‌ इसके लिए आपको शनिवार के दिन अपराजिता के फुल को तोड़ कर हनुमानजी के चरणों मे चढ़ाएं और उसके बाद इसको अपने फर्श मे रखलें आपको जल्दी ही सफलता मिलेगी । इसके अलावा आप 11 अपराजिता के फुलों को मां दुर्गा को चढ़ाएं आपको नौकरी मे सफलता मिलेगी ।

‌‌‌धन प्राप्ति के लिए अपराजिता का प्रयोग

धन प्राप्त करने के लिए आप एक और अपराजिता का प्रयोग कर सकते हैं।इसके लिए आपको अपराजिता के फूलों को तोड़ना है और उसके बाद उनको शिव के मंदिर मे चढ़ा देना है। आपके पास धन आने के योग बनने लगेंगे ।

पति का कपड़े से वशीकरण 11‌‌‌चमत्कारी तरीके

आलू से वशीकरण कैसे करें ? 10 खतरनाख प्रयोग

पीपल से प्रेत साधना ‌‌‌भयंकर प्रेत साधना