मदार के पत्ते से वशीकरण करने के 9 तरीके

मदार के पत्ते से वशीकरण भी आप कर सकते हैं। दोस्तों मदार को सामान्य भाषा के अंदर आकड़ा कहा जाता है। आकड़ा रेगिस्तान के अंदर बंजर भूमी मे उगता है। आप चित्र के अंदर आकड़े की तस्वीर को देख सकते हैं।‌‌‌इसके सफेद फूल लगते हैं और इसके अंदर सफेद जैसा दूध जैसा पदार्थ निकलता है। आकड़ा जंगल के अंदर भी उगा होता है।

‌‌‌आकड़े या मदार का प्रयोग कई प्रकार की तांत्रिक क्रियाओं के अंदर किया जाता है।दोस्तों मदार के प्रयोग से प्रेत को सिद्व करने का काम भी तांत्रिक लोग करते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर मदार के पेड़ मे पानी डाला जाता है। ‌‌‌इसके अलावा यदि कोई गम्भीर बीमार है और ठीक नहीं हो रहा है तो मदार के पेड़ की जड़ को ताबीज के अंदर रखें और काले धागे को बांध कर गले के अंदर धारण करलें तो रोगी अपने आप ही ठीक हो जाता है।

‌‌‌इतना ही नहीं ज्योतिष के अंदर तो यहां तक माना जाता है कि यदि आपके घर के सामने एक मदार का पौधा है तो उसके प्रभाव से आपके घर के अंदर कभी भी नकारात्मक शक्तियां प्रवेश नहीं करेंगी ।

मदार के पत्ते से वशीकरण

1.मदार के पत्ते से वशीकरण

‌‌‌गोरोचन और सफेद मदार [ श्वेतार्क] की जड़ को किसी भी शनिवार के दिन लाएं और साथ ही एक पत्ता तोड़ कर ले आएं । इससे पहले दिन मदार के पौधे से प्रार्थना करके आएं । अब इनको पिस लें और किसी मदार के पत्ते को धोखकर उसके उपर घी के अंदर मिलाएं । अब आप इसका प्रयोग करके तिलक करके जिसके भी सामने जाएंगे वह आपके वश ‌‌‌मे हो जाएगा । यह बहुत ही उपयोगी टोटका है।

‌‌‌2. ‌‌‌आक के पत्ते से वशीकरण और बकरी के दूध से वशीकरण

सबसे पहले आपको किसी सफेद आक का एक पत्ता और जड़ लेकर आनी है। उनको साफ पानी से धोकर रक्तगुंजा को बकरी के दूध  मे पीस लें और इन सबको ‌‌‌मदार के पत्ते पर रखकर ऊँ नमः श्वेतगात्रे सर्वलोक वंशकरि दुष्टान वशं कुरू कुरू नाम बोले में वशमानय स्वाहा मंत्र का 301 ‌‌‌बार जप करें और उसके बाद इसका तिलक करलें । अब यदि आप उस व्यक्ति के सामने जाएंगे तो वह व्यक्ति आपके वश मे हो जाएगा जिसका नाम आपने मंत्र को बोलते समय लिया था।

‌‌‌3.सफेद ‌‌‌मदार की जड़ और पत्ते से वशीकरण

दोस्तों सबसे पहले किसी भी दिन एक सफेद ‌‌‌मदार की जड़ लेकर आएं और उसके साथ ही एक सफेद मदार का पत्ता भी तोड़कर ले आएं । इस पत्ते को घर के बाहर वाले कोने के अंदर दबादें और फिर जड़ को गणेश चतुर्थी से अनन्त चतुर्दशी तक नित्य ‘ऊँ गं गणपतये नम मंत्र का जप करते हुए ‌‌‌ पूजा करें और जिसको अपने वश मे करना हो उसके बारे मे बोलें । और जब समय पूर्ण हो जाए तो इन सबको लेजाकर किसी पानी के अंदर बहादें ।

‌‌‌4.मदार के पत्ते से प्रचंड वशीकरण

मदार के पत्ते से प्रचंड वशीकरण

यह बहुत ही उपयोगी तरीका है।इसको करने के लिए आपको किसी भी मदार के पौधे के पास जाना है और उसके अंदर एक ऐसा फूल तलास करना है। जिसके दोनो तरफ पत्ते हों अब इन पत्तों पर हनुमानजी के मंदिर से लाया सिंदूर व घी से ‌‌‌अपने और उस व्यक्ति का नाम लिखें जिसको आप वश मे करना चाहते हैं। और उसके बाद मौली के द्वारा दोनों पत्तों को फूल के चारो ओर बांध देने के बाद वशीकरण हो जाता है। यह बहुत ही प्रचंड प्रयोग है। इसका प्रभाव कभी भी खाली नहीं जाता है।

5.श्वेतार्क के पत्ते से शत्रु वशीकरण

दोस्तों यह तरीका केवल अपने शत्रु  के उपर ही प्रयोग करना चाहिए। इससे कभी भी अपनी प्रेमिका या किसी अन्य पर प्रयोग नहीं करना चाहिए ।श्वेतार्क का सादा पत्ता तोड़लें और उसके उपर मदार के ही दूध से अपने शत्रु का नाम लिखें और ‌‌‌फिर इस पत्ते को वहीं पर जमीन के अंदर दबादें । बस आपका काम हो गया । अब शत्रु सदा ही आपके वश मे रहेगा ।

‌‌‌6.मदार के फूल से वशीकरण

‌‌‌इस विधि को आपको सोमवार को करनी है। और आसान लगाकर बैठना है।आप सोमवार के दिन किसी ‌‌‌मदार के पौधे के पास जाएं और 11 फूल तोड़ लाएं । और फूलों को हाथ मे रखकर मंत्र का 121 बार उच्चारण करना है।

‌‌‌ओम नमो छू छां छां

ओम नमो वशीकरणम सफलम सफलम सफलम सफलम सफलम ……

‌‌‌और उसके बाद इन फुलों को किसी कटोरी के अंदर डालें और फूलों पर रोली और गंगाजल भी डालदें । और इन सबको पीस लेना चाहिए । ‌‌‌और उसके बाद आपको एक सफेद पेपर के उपर उस व्यक्ति नाम लिखना लिखना है जिसको आप वश मे करना चाहते हैं। कागज के उपर एक स्वास्तिक का चिंह बना लेना है और फिर  इस कागज को मोड देना है।

‌‌‌और फिर कागज को हाथ मे रखकर 21 बार उच्चारण करना है। और सारी वस्तुओं को जल के अंदर ही प्रवाहित कर देनी हैं।और जल के अंदर सामग्री प्रवाहित करें तो किसी से बात ना करें और पीछे मुड़कर भी ना देखें ।

‌‌‌7.मदार के पौधे मे जल डालकर वशीकरण

यह बहुत ही खतरनाख प्रयोग है। और इसको बिना गुरू के कभी नहीं करना चाहिए । यह बेकार टोटका है लेकिन आपको इसके बारे मे जानकारी होनी चाहिए । आमतौर से इस तरीके के अंदर आपको सुबह और शाम को  ‌‌‌लैटरिंग जाना है और वो भी पानी लेकर अब लैटरिंग से बचा हुआ पानी ‌‌‌मदार के पौधे के अंदर डालना होता है।

 यह पूरे 41 दिन तक करना होता है। और 41 वे दिन ‌‌‌आपको एक ‌‌‌मदार के पीर के दर्शन देंगे और आपसे पूछेंगे कि आपने किस वजह से याद किया तो आप उनसे अपनी इच्छा बोल सकते हैं कि मैं चाहता हूं कि आप मेरी हर मनोकामना को पूरा करें । बस यह वचन लेने के बाद ‌‌‌जब भी प्रयोग करना हो । ‌‌‌मदार के अंदर दो दिन पानी डालें और अपनी मनोकामना को बोलें ।आपका काम पूरा हो जाएगा ।

‌‌‌8.मदार के पौधे के नीचे बैठ कर जप वशीकरण

मदार के पौधे के नीचे बैठ कर जप वशीकरण

ब्रह्म मुहूर्त के अंदर स्नान करने के बाद किसी भी श्वेत ‌‌‌मदार के नीचे आसन पर बैठें और फिर वहां पर रोजाना एक माला ओम गणपतेय नम: का जाप एक माला करें और इससे पूर्व उस व्यक्ति का नाम बोलें जिसको आप वश मे करना चाहते हैं।

‌‌‌9.मदार की जड़ से प्रचंड वशीकरण

‌‌‌मदार की जड़, घुघुंची की जड़, शक्कर, तिल एवं गाय का घी सबसे पहले एकत्रित करें और उसके बाद हवन कुंड बनाएं। सबसे पहले अपने मन मे उस इच्छा को रखें जिसको आपको पूरा करना है। यदि आप किसी को अपने वश मे करना चाहते हैं तो मन मे इसके बारे मे सोचें और फिर 108 आहूती दें और ओम नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप ‌‌‌करें ।

मदार के पत्ते से वशीकरण लेख के अंदर हमने मदार से वशीकरण करने के अनेक तरीको के बारे मे जाना यह लेख आपको कैसा लगा नीचे कमेंट करके बताएं ।

कबूतर के पंख से वशीकरण 7 उपयोगी प्रयोग जानिए

गिरगिट से करे वशीकरण 7 प्रभावशाली तरीके

गुलाब जल से वशीकरण करने के 9 शानदार तरीके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »